मध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश में मनरेगा मजदूर बनीं दीपिका पादुकोण! हजारों रुपये खाते से निकाले गए

मध्‍य प्रदेश में खरगोन जिले की एक ग्राम पंचायत में फ़िल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण सहित अन्य हीरोइन की तस्वीर रोजगार गारंटी जॉब कार्ड पर लगाकर पंचायत सचिव और रोजगार सहायक ने जमकर फर्जीवाड़ा किया. ऑनलाइन जॉब कार्ड पर ग्रामीण महिला-पुरुषों की तस्वीर के स्थान एक्ट्रेस की तस्वीरें लगाई गईं. यहीं नहीं, इन जॉब कार्ड्स पर मजदूरी की राशि भी जारी कर दी है. कई ग्रामीणों को ये तक नहीं पता उनके नाम से राशि भी जारी हुई, वे काम पर कभी गए ही नहीं.

झिरनिया जनपद पंचायत में कारनामा

जिला मुख्यालय से 70 किलोमीटर दूर झिरनिया जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत पीपलखेड़ा नाका में फिल्म अभिनेत्रियों के फोटो महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना जॉब कार्ड में लगाई गई हैं. जब ग्राउंड जीरो पर हमने जॉब कार्ड धारियों से बात की तो पता चला उन्हें तो पता ही नहीं कि उनके नाम से कब राशि निकल गई और उनके जॉब कार्ड पर फिल्म अभिनेत्रियों की तस्वीर लगी हैं.

15 जॉब कार्ड में अभिनेत्रियों की तस्वीरें

यही नहीं, उनके पास जो जॉब कार्ड मौजूद हैं उन पर उनके क्रमांक में भी अंतर आ रहा है. कुछ किसान ऐसे भी थे, जिनकी 50 एकड़ जमीन होने के बावजूद उनके नाम से जॉब कार्ड बने हैं और वह भी अभिनेत्री दीपिका पादुकोण की तस्वीर के साथ. गांव में करीब 15 जॉब कार्ड ऐसे मिले जिस पर अभिनेत्रियों की तस्वीरें लगी हैं. सोनू शांतिलाल, मोनू शिवशंकर, सूरज रुखड़िया, मंगत बाबूलाल, अनारसिंह वेस्ता, गोविंद डोंगर सिंह, पदम सिंह रूपसिंह, उमराव सिंह, खुशियाल हीरालाल नाम के गांव वालों के जॉब कार्ड पर फिल्‍म एक्‍ट्रेसेस के फोटो लगे मिले.

फर्जी कार्ड पर मंत्री और सचिव ने 30,000 रुपये निकाले

संपन्‍न किसान पुत्र मनोज दुबे संयुक्त परिवार में रहते हैं. उनके पास करीब 50 एकड़ जमीन है. जॉब कार्ड धारी मनोज उर्फ मोनू दुबे का कहना है कि मैंने जॉब कार्ड बनवाया नहीं और न ही मैं कभी मजदूरी पर गया. मेरा फर्जी कार्ड मंत्री और सचिव ने बनाया है और 30,000 रुपये निकाले हैं. मेरे जॉब कार्ड पर एक्‍ट्रेस दीपिका पादुकोण की फोटो लगी है, हम शिकायत करेंगे.

वहीं, ग्रामीण युवक सोनू उर्फ सुनील का कहना है जॉब कार्ड फर्जी बना लिया है, मेरे पास तो मेरा बना है. दूसरा बना लिया है और उसमें से पैसे निकाल रहे हैं. जॉब कार्ड में मेरी मिसेज की जगह हीरोइन दीपिका पादुकोण की फोटो लगा रखी है. मैंने 1 रुपया भी नहीं निकाला है. मंत्री, सचिव और झिरन्‍या के अधिकारियों ने पैसे निकाले होंगे.

जांच के बाद दोषियों पर होगा एक्शन

आईएएस अधिकारी, जिला पंचायत सीईओ गौरव बैनल का कहना है कि ये मामला अभी संज्ञान में आया है, जिसमें 11 जॉब कार्ड की जानकारी उपलब्ध है. इसमें तथाकथित सेलिब्रिटीज की तस्वीरें लगी हैं और पिछले कुछ दिनों में राशि निकाली गई है और मस्टररोल भरे गए हैं. जांच कर पता लगाया जाएगा कि किस तरह जॉब कार्ड जारी किए गए हैं, वो सही है या नहीं और उन जॉब कार्ड पर ये तस्वीरें कैसे लगी हैं. जांच में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा.
ये वही जनपद पंचायत झिरन्या है, जिसने मनरेगा के तहत शत प्रतिशत मजदूरी भुगतान करने में देश में पहला स्थान पाया था. 15 अगस्त को जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी महेंद्र कुमार श्रीवास्तव को मनरेगा योजना में उत्कृष्ट कार्य करने पर पुरस्कृत किया गया था. इसी जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत पिपरखेड़ा नाका में फर्जीवाड़ा हुआ.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *