Top 5 राष्ट्रीय

Navratri: PM मोदी ने देशवासियों को दी नवरात्रि की शुभकामनाएं, गरीबों के जीवन में बदलाव लाने का मांगा आशीर्वाद

शारदीय नवरात्र का प्रारम्भ आज यानी शनिवार 17 अक्तूबर को हो रहा है। इस बार शारदीय नवरात्र 17 से 25 अक्टूबर के बीच रहेंगे, हालांकि नवरात्र (नवरात्रि) के नौ दिनों में कोई तिथि क्षय तो नहीं होगी लेकिन 25 तारिख को नवमी तिथि सुबह 7:41 पर ही समाप्त हो जाएगी। इसलिए नवमी और विजयदशमी (दशहरा) एक ही दिन होंगे। शारदीय नवरात्र के शुभ अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर अमित शाह ने देशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देशवासियों को शारदीय नवरात्रि की शुभकामनाएं देते हुए मां जगदम्बा से गरीबों और पिछड़ों के जीवन उत्थान में सकारात्मक बदलाव लाने का आशीवार्द मांगा है। पीएम मोदी ने नवरात्रि की शुभकामनाएं देते हुए ट्वीट किया, ‘नवरात्रि के पावन पर्व की बहुत-बहुत बधाई। जगत जननी मां जगदम्बा आप सभी के जीवन में सुख, शांति और समृद्धि का संचार करें। जय माता दी।’

प्रधानमंत्री ने नवरात्रि के पहले दिन मां दुर्गा के शैलपुत्री स्वरूप का स्मरण करते हुए एक अन्य ट्वीट किया, ‘ॐ देवी शैलपुत्यैर् नम:।। नवरात्र के प्रथम दिन मां शैलपुत्री को प्रणाम। उनके आशीवार्द से हमारी धरा सुरक्षित, स्वस्थ और खुशहाल रहे। उनके आशीवार्द से हमें गरीबों और पिछड़ों के जीवन उत्थान में सकारात्मक बदलाव लाने का बल मिले।’

वहीं, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी शनिवार को शारदीय नवरात्र की देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए मां भगवती से सभी पर अपनी कृपा और आशीवार्द बनाये रखने की प्रार्थना की है। अमित शाह ने ट्वीट किया, ‘नवरात्रि’ तप, साधना और शक्ति उपासना का प्रतीक है। नवरात्रि के महापर्व की समस्त देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। मां भगवती सभी पर अपनी कृपा और आशीवार्द बनाये रखें। जय माता दी।’

गौतलब है कि पुरुषोत्तम मास की वजह से पितृ-विसर्जन अमावस्य़ा के एक माह बाद नवरात्र प्रारम्भ हो रहे हैं। देवी भगवती कई विशिष्ट योग-संयोग के साथ अश्व पर सवार होकर अपने मंडप में विराजमान होंगी। 58 साल बाद अमृत योग वर्षा हो रही है।

घट स्थापना का मुहूर्त ( शनिवार)

शुभ समय – सुबह 6:27 से 10:13 तक ( विद्यार्थियों के लिए अतिशुभ)
अभिजीत मुहूर्त – दोपहर 11:44 से 12:29 तक ( सर्वजन)
स्थिर लग्न ( वृश्चिक)- प्रात: 8.45 से 11 बजे तक ( शुभ चौघड़िया, व्यापारियों के लिए श्रेष्ठ)

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *